49% जख्मी ही एम्बुलेंस से पहुंचते हैं हॉस्पिटल, क्यों वक्त पर नहीं पहुंचती सुविधा?

Leave a Reply

Your email address will not be published.